अदालतों में रिश्वतखोरी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- कोर्ट कर्मियों का घूस मांगना अस्वीकार्य, ऊँचे मानदंड सिर्फ जजों के लिए नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने अदालतों में रिश्वतखोरी को लेकर सख्त टिप्पणी की है। शीर्ष कोर्ट ने कहा कि अदालतों में काम करते हुए रिश्वत मांगना अस्वीकार्य है। अदालतों में कामकाज के उच्च मानदंड सिर्फ जजों के लिए ही नहीं हैं, बल्कि वहां काम करने वाले कर्मचारियों के लिए भी हैं।

शीर्ष कोर्ट ने यह टिप्पणी बिहार की एक जिला कोर्ट में पदस्थ रहे व्यक्ति की सजा में परिवर्तन करते हुए की। एक केस में आरोपी को दोषमुक्त कराने के लिए 50 हजार रुपये की रिश्वत मांगने के आरोप में सेवा से बर्खास्त किया गया था। सुप्रीम कोर्ट से आग्रह किया गया था कि वह सजा में बदलाव कर बर्खास्तगी की बजाए निकालना कर दिया जाए, ताकि संबंधित व्यक्ति कहीं और नौकरी कर सके।

जस्टिस एएम खानविलकर व जस्टिस सीटी रविकुमार की पीठ से अपीलकर्ता के वकील ने कहा कि पिछले 24 सालों से इस  व्यक्ति ने बेदाग सेवा की है और उसके खिलाफ यह पहला आरोप था। इस पर पीठ ने कहा, ‘तुम अदालत में काम करते हो और पैसा मांगते हो, अपीलकर्ता ने अपनी गलती मंजूर की है।’

शीर्ष अदालत पटना हाईकोर्ट की डबल बेंच के जनवरी 2020 के आदेश को चुनौती देने वाली याचिका पर सुनवाई कर रही थी। इस व्यक्ति ने पहले हाईकोर्ट की एकल पीठ में अपील की थी, जो खारिज हो गई थी। डबल बेंच ने भी उसकी अपील नामंजूर कर दी थी। एकल पीठ ने जनवरी 2018 में उस व्यक्ति की सजा में हस्तक्षेप से इनकार कर दिया था। यह व्यक्ति औरंगाबाद की कोर्ट में पीठासीन अधिकारी था।

 सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि फरियादी को 2014 में सेवा से बर्खास्त किया गया था। उसे सुनाई गई सजा बेहद सख्त है। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने पूछा, ‘यह सजा सख्त कैसे है? यह जांच के बाद सुनाई गई है या नहीं?’ इस पर वकील ने कहा कि पहली जांच में जांच अधिकारी ने आरोपी को बरी कर दिया था। बाद में विभागीय जांच की गई और आरोप सही पाए गए।

 इस पर सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अपीलकर्ता ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया है तो फिर क्या किया जा सकता है। वकील ने कहा कि हो सके तो सेवा बहाल कर दीजिए, इस पर पीठ ने कहा, यह इसका सवाल ही नहीं उठता।

पीठ ने मौखिक रूप से कहा कि अदालत में काम करते हो और पैसों की मांग करते हो, यह अस्वीकार्य है। आरोपी को सजा बतौर बर्खास्त किया गया है। वकील द्वारा 24 साल की बेदाग सेवा का हवाला देने पर शीर्ष कोर्ट ने सजा में बदलाव करते हुए बर्खास्तगी (dismissal) को हटाया (removal)  या निकालना कर दिया, ताकि वह अन्यत्र कहीं नौकरी कर सके।

23 Replies to “अदालतों में रिश्वतखोरी: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- कोर्ट कर्मियों का घूस मांगना अस्वीकार्य, ऊँचे मानदंड सिर्फ जजों के लिए नहीं”

  1. I do not even know the way I finished up right here, but I assumed this publish was good.

    I don’t realize who you’re but certainly you’re going to a famous
    blogger in the event you aren’t already. Cheers!

  2. Hi there! I’m at work surfing around your blog from my new iphone 3gs!

    Just wanted to say I love reading your blog and look
    forward to all your posts! Keep up the outstanding work!

  3. Hello there! I know this is somewhat off topic but I was wondering which blog platform are you using for this site?
    I’m getting fed up of WordPress because I’ve had issues with hackers and I’m looking at options
    for another platform. I would be great if you could point me in the direction of a good
    platform.

  4. whoah this weblog is excellent i really like
    reading your posts. Stay up the great work!
    You realize, many persons are hunting round for this information, you could help
    them greatly.

  5. It’s actually a cool and helpful piece of info. I’m glad that you just shared
    this helpful information with us. Please stay us up to date like this.

    Thank you for sharing.

  6. This design is spectacular! You definitely know how to keep a reader amused.

    Between your wit and your videos, I was almost moved
    to start my own blog (well, almost…HaHa!) Wonderful
    job. I really enjoyed what you had to say, and
    more than that, how you presented it. Too cool!

  7. Your style is so unique compared to other folks I have read
    stuff from. I appreciate you for posting when you have the opportunity, Guess I’ll just book mark this web site.

  8. Hey there I am so thrilled I found your blog, I really found you by accident, while I
    was researching on Bing for something else, Nonetheless I am here now and would just like to say thank you for a incredible post and a all round enjoyable blog (I also love the theme/design), I
    don’t have time to browse it all at the moment but I have saved it and also added your RSS feeds, so
    when I have time I will be back to read more, Please do keep up
    the fantastic job.

  9. This is a really good tip especially to those fresh to the
    blogosphere. Simple but very precise information… Many thanks for
    sharing this one. A must read article!

  10. Great blog here! Also your web site loads up fast!
    What host are you using? Can I get your affiliate link to
    your host? I wish my website loaded up as fast as
    yours lol

Leave a Reply

Your email address will not be published.