GATE परीक्षा स्थगित करने की मांग, 7000 से अधिक उम्मीदवारों ने ऑनलाइन याचिका पर किए हस्ताक्षर

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (IIT) खड़गपुर ने गेट परीक्षा के एडमिट कार्ड जारी कर दिए हैं।  वहीं इस साल गेट परीक्षा का आयोजन 5, 6, 12 और 13 फरवरी को होगा। परीक्षा दो शिफ्टों में होगी। पहली शिफ्ट की परीक्षा सुबह 9 से 12 और दूसरी शिफ्ट की परीक्षा दोपहर 2:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक होगी।

वहीं कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए छात्र परीक्षा स्थगित की मांग कर रहे हैं। परीक्षा को स्थगित करने के लिए 7,000 से अधिक उम्मीदवारों ने एक ऑनलाइन याचिका पर हस्ताक्षर किए हैं। जिसमें मांग की गई है कि ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (गेट) परीक्षा को वर्तमान में आयोजित न किया जाए और परीक्षा स्थगित कर दी जाए।

इस साल गेट परीक्षा का आयोजन IIT खड़गपुर की ओर से किया जा रहा है। परीक्षा में आठ लाख से अधिक उम्मीदवारों के बैठने की उम्मीद है। आपको बता दें, ऑनलाइन याचिका पिछले हफ्ते शुरू हुई और सोमवार शाम तक 7,114 छात्रों ने हस्ताक्षर किए, जिसमें कहा गया, “मौजूदा तीसरी लहर के साथ, COVID-19 अपने नए वेरिएंट Omicron के कारण कई राज्यों, शहरों में गंभीर रूप से फैल गया है। IIT कानपुर द्वारा किए गए एक कई अध्ययन से पता चला रहै कि फरवरी की शुरुआत में तीसरी लहर का पीक (peak) होगा, और ये अप्रैल तक समाप्त हो जाएगी। इसलिए परीक्षा वर्तमान में स्थगित कर देनी चाहिए”

“अगर परीक्षा की तारीखें स्थगित नहीं की जाती हैं, गेट 2022 के लिए उपस्थित होने वाले उम्मीदवारों के संक्रमित होने का जोखिम होता है, जिससे उनके जीवन के साथ-साथ उनके परिवार के सदस्य के जीवन को भी खतरा हो सकता है। इस याचिका में गेट प्रतिभागियों की ओर से जिन्होंने हस्ताक्षर किए हैं,  वह याचिका पर हस्ताक्षर कर लें, ताकि गेट की परीक्षा की तारीख अप्रैल के महीने में हो सके”

हरियाणा के नारनौल जिले के एक उम्मीदवार प्रियांशु ने बताया कि परीक्षा केंद्र उसके स्थान से 140 किलोमीटर की दूरी पर है. “अगर मैं इस तीसरी लहर के दौरान यात्रा करता हूं, तो मैं न केवल अपनी सुरक्षा बल्कि अपने परिवार की भी सुरक्षा को जोखिम में डालूंगा। विडंबना यह है कि IIT-खड़गपुर ने कोरोना  की स्थिति को देखते हिए अपनी आगामी पूर्व छात्रों की बैठक स्थगित कर दिया गया है, लेकिन हमारी सुरक्षा को खतरे में डालते हुए गेट परीक्षा आयोजित की जाएगी।”

बता दें, कई प्रयासों के बाद, IIT-खड़गपुर ने टिप्पणी के लिए भेजे गए ईमेल का जवाब नहीं दिया। शिक्षा मंत्रालय के एक सीनियर अधिकारी ने कहा, ‘परीक्षा स्थगित करने के बारे में कोई बात नहीं हुई है। परीक्षा सभी एहतियाती सावधानी के साथ आयोजित की जाएगी। लोगों को पहले से ही कोविड -19  का टीका लगाया गया है। परीक्षा स्थगित करने से लाखों छात्रों का करियर दांव पर लग जाएगा।

5 Replies to “GATE परीक्षा स्थगित करने की मांग, 7000 से अधिक उम्मीदवारों ने ऑनलाइन याचिका पर किए हस्ताक्षर”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *