शख़्सियत; मेरे अंदर रफ़ी साहब की आत्मा बसती है: संजय धूपर

 

मशहूर सिंगर मोहम्मद ( Mohammed Rafi )की वो अमर आवाज को कौन नहीं जानता। एकदम उसी आवाज में गा रहा एक दीवाना इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल है। इस शख्स का नाम संजय धूपर है ।मप्र के ग्वालियर ज़िले के रहने वाले संजय को एरिया के लोग उन्हें छोटे रफी के नाम से भी जानते हैं।

अक्सर शहर में गाहे-बगाहे एक शख्स आपको चाय के स्टॉल बैजाताल या फिर सुबह के समय ग्वालियर किले पर मोहम्मद रफी साहब के नगमे गुनगुनाता दिख जायेंगे ।संजय रफी साहब के बहुत बड़े दीवाने हैं ।  संजय को गायकी का बचपन से ही गाने का शौक है ।स्पेशली वह मोहम्मद रफी साहब के दीवाने हैं और यह कहना अतिशयोक्ति न होगी कि मोहम्मद रफी साहब की आत्मा उनके अंदर रच-बस गई है। क्योंकि वह मोहम्मद रफी साहब को अपना गुरु मानते हैं और उन्हीं की पूजा करते है।

 

संजय बेफिक्र इंसान है उन्हें सिर्फ म्यूजिक के अलावा कुछ नहीं भाता है। वे अकेले ही ग्वालियर  के किसी भी सार्वजनिक स्थान पर खड़े होकर रफी साहब के नगमे को गुनगुनाते हैं और उनकी यही अदा ग्वालियर के लोगों को अब भा रही है।

म्यूजिक के दीवाने संजय ने म्यूजिक का पूरा सेटअप अपने सिटी सेंटर स्थित ऑफिस में जमा रखा है वह नए युवाओं को भी मौका देते हैं इसके साथ ही संजय धूपर यूट्यूब पर पिछले कई सालों से मोहम्मद रफी साहब के गाने के एल्बम निकाल रहे हैं।

मोहम्मद रफी साहब के प्रति उनकी दीवानगी देखते ही बनती है। उन्हें करीब 2000 गाने मुंह जवानी याद है और वे कई घंटों तक नॉनस्टॉप गाना गाकर सुर्खियां भी बटोर चुके हैं।

इतना ही नहीं संजय सादगी पसंद व्यक्ति हैं,कई सालों से साइकिल ही चला रहे हैं और फ़िटनेस के प्रति उनकी दीवानगी देखते ही बनती है।

आने वाले दिनों में रफ़ी साहब के इस दीवाने का विदेशों में भी टूर पर जाने का प्रोग्राम बन रहा है।

7 Replies to “शख़्सियत; मेरे अंदर रफ़ी साहब की आत्मा बसती है: संजय धूपर”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *