सुप्रीम कोर्ट के जज ने पूछा पीडि़ता से, रात आठ बजे होटल के कमरे में मिलने क्यों गईं थीं

दुष्कर्म के आरोपी सेना के एक जवान को गिरफ्तारी से दी राहत

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने दुष्कर्म के आरोपी सेना के एक जवान को यह कहते हुए गिरफ्तारी से राहत दे दी कि आखिर पीडि़ता रात आठ बजे आरोपी से मिलने होटल के कमरे में क्यों गई? यह जवान अभी जम्मू-कश्मीर में तैनात है। जस्टिस विनीत शरण और जस्टिस बीआर गवई की पीठ ने आरोपी जवान द्वारा दायर अग्रिम जमानत की याचिका पर सुनवाई करते हुए पाया कि आरोपी और शिकायकर्ता के बीच पहले से संबंध थे। पीठ ने पीडि़ता के वकील से सवाल किया कि रात के आठ बजे पीडि़ता आरोपी से मिलने होटल के कमरे में क्यों गई? इस पर वकील ने कहा कि शिकायतकर्ता और आरोपी पहले से एक-दूसरे से परिचित थे। उन्होंने दावा किया कि होटल में चाय में नशीला पदार्थ मिलाकर उसे पिलाया गया और इसके बाद दुष्कर्म किया। आरोपी की अग्रिम जमानत याचिका का विरोध करते हुए यह भी कहा कि उसने शादी का झांसा देकर युवती के साथ संबंध बनाए।

जवान की ओर से पेश वकील सुमित सिन्हा ने कहा कि याचिकाकर्ता और पीडि़ता के बीच संबंध, दोनों की मर्जी से बनाए गए थे। दोनों, एक-दूसरे को 2017 से जानते थे। याचिकाकर्ता का कहना था कि उनके रिश्ते में तब खटास आ गई, जब लड़की के माता-पिता शादी को लेकर मिले थे। इसके बाद शिकायतकर्ता ने एफआईआर दर्ज कर उस पर दुष्कर्म का आरोप लगा दिया।

याचिकाकर्ता के वकील सिन्हा ने यह भी कहा कि इस मामले में चार्जशीट दायर होने तक वह जमानत पर था और अब ट्रायल शुरू हो चुका है इसलिए उसे न्यायिक हिरासत में भेजने का कोई मतलब नहीं है।

One Reply to “सुप्रीम कोर्ट के जज ने पूछा पीडि़ता से, रात आठ बजे होटल के कमरे में मिलने क्यों गईं थीं”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *