एनसीआरबी कॉस्मोपोलिटिन: 3 साल में इंदौर में सबसे ज्यादा 177, भोपाल में 158 और ग्वालियर में 128 हुए मर्डर

 

राजेश शुक्ला। मप्र के शहर इंदौर-भोपाल और ग्वालियर जिले में वर्ष 2018 से 2020 तक आपराधिक मामलों में लगातार वृद्धि हुई है। सबसे ज्यादा हत्याएं मप्र के अन्य जिलों की अपेक्षा इन्हीं तीन शहरों में इंगित हुई है। यह हम नहीं राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी कॉस्मोपोलिटिन) के पिछले तीन साल के आंकड़े बता रहे हैं। 2018 से 2020 के दौरान इंदौर, भोपाल और ग्वालियर में प्रत्येक 15 दिन में एक हत्या की वारदात को अंजाम दिया गया है।

हत्या के मामलों में अगर राज्यों के आंकड़ों पर नजर डालें तो मप्र का पड़ौसी राज्य उत्तर प्रदेश टॉप पर रहा है। एनसीबी आंकड़ों के अनुसार मध्य प्रदेश में 2101 हत्या की वारदातें कमोवेश प्रत्येक जिले में हुई हैं।

गौर करने वाली बात है कि रिपोर्ट में कुल हत्या पीडि़तों में से अधिकतम 38.5 प्रतिशत 30-45 वर्ष आयु वर्ग के थे। जबकि 35.9 प्रतिशत 18-30 वर्ष की आयु वर्ग के थे।

ग्वालियर में इन तीन सालों में कुल 128 हत्या के मामले सामने आए हैं। इन सभी हत्याओं का कारण गैंगवार, संपत्ति विवाद, फैमिली विवाद और क्षुद्र विवाद में हुई हैं।

हालांकि इन सभी हत्याओं के प्रकरणों में अभी ट्रॉयल चल रहा है। इधर भोपाल और इंदौर में भी गैंगवार और अन्य विवाद में हत्याएं हुई हैं। सबसे ज्यादा हत्या के मामले इंदौर में हुए हैं। एनसीआरबी ने यह आंकड़े देश के बड़े शहरों की तुलना से की है।

पिछले दो साल में ग्वालियर में ऑनर किलिंग के कई मामलों ने ग्वालियर पुलिस को चौंकाया है। हैरत की बात यह है कि पड़ौसी राज्य राजस्थान और उप्र में ऑनर किलिंग के चलते विवाद हुआ, जबकि हत्याएं ग्वालियर की सीमा के अंदर हुई हैं। ग्वालियर जिले के आंतरी और दो अन्य थानों में हत्या के केस रजिस्टर्ड हुए हैं।

 

इंदौर और भोपाल में संगठित अपराध देखा जा रहा है, लेकिन ग्वालियर, दतिया, मुरैना, भिंड, श्योपुर, शिवपुरी, गुना और अन्य छोटे जिलों में दहशत फैलाने, संपत्ति विवाद, पानी भरने और मामूली लेनदेन को लेकर हत्याएं हुई हैं।

ग्वालियर में पिछले एक साल में मुरार, ठाटीपुर और अन्य थानों में लूट के बाद हत्याओं को अंजाम दिया गया है। ठाटीपुर में एक ऐसा भी मामला हाल में सामने आया कि प्रेमी से मिलने से पिता ने मना किया तो लड़की ने अपने पिता की सुपारी दे दी।

पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि ग्वालियर अंचल में अपराध लगातार बढ़ रहा है। लोगों में सहन करने की क्षमता कम होती जा रही है।

 

29 Replies to “एनसीआरबी कॉस्मोपोलिटिन: 3 साल में इंदौर में सबसे ज्यादा 177, भोपाल में 158 और ग्वालियर में 128 हुए मर्डर”

  1. Hi there to all, the contents existing at this website are in fact remarkable for people knowledge, well,
    keep up the good work fellows.

  2. Thanks for another great post. The place else may anybody get that kind
    of info in such a perfect method of writing?
    I’ve a presentation subsequent week, and I am
    on the look for such info.

  3. That is a good tip particularly to those fresh to the
    blogosphere. Simple but very accurate info… Thanks for sharing this
    one. A must read article!

  4. Hey I know this is off topic but I was wondering if you knew of any widgets I could add to my
    blog that automatically tweet my newest twitter updates.
    I’ve been looking for a plug-in like this for quite some time and was hoping maybe you would
    have some experience with something like this.
    Please let me know if you run into anything. I truly enjoy reading
    your blog and I look forward to your new updates.

  5. I like what you guys tend to be up too. Such clever work and exposure!
    Keep up the great works guys I’ve incorporated you guys
    to blogroll.

  6. Hello! Someone in my Facebook group shared this site with us
    so I came to check it out. I’m definitely loving the information. I’m bookmarking and will be
    tweeting this to my followers! Wonderful blog and brilliant design and style.

  7. Thank you for sharing your info. I truly appreciate your efforts and I will be waiting for your further write ups thank you once again.

  8. Magnificent goods from you, man. I have understand your stuff previous to and you’re just too wonderful.

    I really like what you have acquired here, certainly like what you are saying and the way
    in which you say it. You make it enjoyable and you still care for to keep
    it smart. I can not wait to read far more from you.
    This is actually a wonderful web site.

  9. Cool blog! Is your theme custom made or did you download it from
    somewhere? A design like yours with a few simple tweeks
    would really make my blog stand out. Please let me
    know where you got your theme. Kudos

  10. Hello! Someone in my Myspace group shared this website with us so I came to give it
    a look. I’m definitely enjoying the information. I’m bookmarking and will be tweeting this to my followers!
    Excellent blog and superb style and design.

  11. Hi, I do think this is a great site. I stumbledupon it 😉 I am going to return yet again since I saved
    as a favorite it. Money and freedom is the greatest way to change, may you be rich and continue to
    help other people.

  12. I for all time emailed this weblog post page to all my friends,
    for the reason that if like to read it afterward my links will too.

  13. Thanks for any other informative website. Where else may just I get that kind of information written in such a perfect approach? I have a project that I am just now operating on, and I have been at the look out for such information.|

  14. Superb blog! Do you have any recommendations for aspiring writers? I’m planning to start my own blog soon but I’m a little lost on everything. Would you recommend starting with a free platform like WordPress or go for a paid option? There are so many options out there that I’m totally confused .. Any suggestions? Thanks a lot!|

  15. No matter if some one searches for his necessary thing, thus he/she desires
    to be available that in detail, thus that thing is maintained
    over here.

  16. Hi there! Quick question that’s entirely off topic.
    Do you know how to make your site mobile friendly? My blog looks weird when browsing
    from my apple iphone. I’m trying to find a theme or plugin that might be able
    to resolve this problem. If you have any recommendations,
    please share. Appreciate it!

Leave a Reply

Your email address will not be published.