RAS प्री पास करने के बाद हुई थी शादी, अब बहू नहीं बन पाई अफसर तो घर से निकाला

झुंझुनूं,  झुंझुनूं जिले में एक महिला के साथ ज्यादत्ती की खबर सामने आई है, जिसे सुनकर आपको भी ऐसी सोच पर हैरानी होगी। दरअसल झुंझुनूं की एक बेटी आरएएस नहीं बन पाई, तो सुसराल वालों ने बेटी को घर से ही निकाल दिया। जब आरएएस प्री पास कर ली थी, तो सुसराल पक्ष के लोगों ने रिश्ता किया था। बहू एसडीएम बन जाएगी, लेकिन नहीं बनी तो उस पर जुल्म शुरू कर दिए और मारपीट कर घर से ही निकाल दिया। बहू ने काफी प्रयास किए लेकिन, वह अधिकारी नहीं बन पाई।

झुंझुनूं जिले के सूरजगढ़ कस्बे के वार्ड नम्बर दो की ऊषा ने बताया कि उसने वर्ष 2013 में आरएएस प्री क्लीयर किया था। इस दौरान उसका रिश्ता बुगाला निवासी विकास कुमार के साथ हुआ था। विकास कुमार पॉलिटेक्निकल कॉलेज में व्याख्याता है। उन्हें लगा कि ऊषा जल्द ही आरएएस बन जाएगी। इसके बाद साल 2016 में दोनों की शादी हो गई। ऊषा ने बताया कि शादी के बाद आरएएस मैन्स हुई। इस परीक्षा में ऊषा कामयाब नहीं हो पाई। इसके के साथ ऊषा पर ताने शुरू हो गए। उसको ससुराल पक्ष के लोगों ने परेशान करना शुरू कर दिया। ऊषा को परेशान करने लगे। पति खुद लेक्चर हैं, वह भी कहने लगा कि अधिकारी नहीं बन पाई।

 

पिता जगदीश प्रसाद लोहरानिया ने बताया कि नवलगढ़ तहसील के बुगाला गांव के ससुराल पक्ष वालों के खिलाफ युवती ने दहेज प्रताडऩा, घरेलू हिंसा व मारपीट कर घर से बाहर निकालने का मामला दर्ज कराया है। युवती के पति विकास कुमार बुगालिया, सास विमला देवी ससुर नानडऱाम बुगालिया, व उनके विवाह के बिचोले संजय कुमार पुत्र मुखराम व उनकी पत्नी प्रकाश वर्मा निवासी लूट्टू तहसील मलसीसर जिला झुंझुनूं ने एकमत राय होकर मारपीट कर घर से बाहर निकाल दिया। लडक़ी आरएएस प्री परीक्षा पास कर चुकी है। वह जल्दी ही प्रशासनिक अधिकारी बन जाएगी। विकास कुमार बुगालिया पॉलिटेक्निकल कॉलेज में व्याख्याता लगा हुआ है। युवती ने रिपोर्ट में लिखा है कि उनका पति विकास कुमार बुगालिया आदतन शराबी है।

ऊषा ने बताया कि 2016 में राजस्थान लोक सेवा आयोग की आरएएस प्री एग्जाम पास कर चुकी थी। आरएएस मैन कंपटीशन की तैयारी कर रही थी। जो रिश्ते के समय उन्होंने आरएएस प्री रिजल्ट देख कर रिश्ता तय किया था। शादी के बाद वह अपने पति के साथ ससुराल में रह रही थी। पति और सुसराल पक्ष की प्रताडना के कारण वह आरएएस की मुख्य परीक्षा में सफल नहीं हो सकी। उसके बाद उनके ससुराल के लोगों ने आरएएस नहीं बन पाई तो घर से निकाल दिया। ऊषा ने बताया कि वह लगातार अन्य परीक्षाओं की तैयारी करती रही, लेकिन सफलता नहीं मिली। इससे सुसराल पक्ष के लोगों नाराज हो गए और प्रताडि़त करने लगे।

15 Replies to “RAS प्री पास करने के बाद हुई थी शादी, अब बहू नहीं बन पाई अफसर तो घर से निकाला”

Comments are closed.