अमानवीयता: वीकेंड लॉकडाउन पर ठेला संचालक किशोर पर आरक्षकों ने गर्म तेल फैंका

ग्वालियर। मप्र के ग्वालियर जिले में रविवार को वीकेंड लॉकडाउन में एक नाश्ता का व्यापार करने वाले की इतनी गलती रही कि उसे वीकेंड कफ्र्यू का इल्म नहीं था। बस फिर क्या था। पुलिस के जवानों को मौका मिल गया। कायदे से नियम तोडऩे पर उसपर मुकदमा दर्ज करते लेकिन आरक्षकों ने सारी हदें पार कर दीं। दो आरक्षकों ने एक समोसा-कचौड़ी के ठेला संचालक पर धक्का-मुक्की कर उसके ऊपर कड़ाई का गर्म तेल उड़ेल दिया जिससे उसके दौनों पैर बुरी तरह से झुलस गए। युवक को उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया रहा है कि अब पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों से उत्तर देते नहीं बन रहा है। पुलिस कर्मियों द्वारा की गई इस हरकत से एक बार फिर से खाकी शर्मसार हो गई। झांसी रोड थाना प्रभारी मिर्जा आसिफ बेग ने बताया कि रविवार की सुबह नाका चंद्रवदनी स्थित बस स्टेंड पर पंकज रजक वीकेंड कफ्र्यू के दौरान समौसा-कचौड़ी का ठेला लगाए हुए था। सुबह दुकान बंद कराने के लिए क्षेत्र में निकले आरक्षक दसरथ और संग्राम सिंह ने जब उसे ठेला लगाए देखा तो उसे ठेला बंद करने का बोला और आगे दुकानें बंद कराने चले गए। कुछ समय बाद जब वापस लौटे तो फिर उसका ठेला लगा देख दोनों आरक्षक आग बबूला हो गए और आव देखा ना ताव दुकानदार को हड़काने के लिए डंडा चलाना शुरू कर दिया जिससे गर्म तेल से भरी कड़ाई से उसके पांव पर तेल गिर गया और वह बुरी तरह से झुलस गया। पीडि़त को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। बताया जाता है कि पूरा मामला भोपाल तक भी सोशल मीडिया के माध्यम से पहुंच गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *